PM Modi Yojana 2022: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी योजना | सरकारी योजना सूची

kendra sarkar yojana llist| मोदी सरकार की नई योजना | गाँव संबंधी सरकारी योजनाओं की जानकारी 2021 | प्रधानमंत्री द्वारा शुरू योजनाओं की सूची PDF| प्रधानमंत्री द्वारा शुरू योजनाओं की सूची PDF| केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाएं 2020| सरकारी योजना रजिस्ट्रेशन| भारत सरकार की योजनाएं PDF in Hindi| सरकारी योजना 2020

sarkari yojana`
janayojana.com

Table of Contents

केंद्र सरकार की योजनाओ की सूची

केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर भारत की जनता के हित में अनेक प्रकार की योजनाओं को लागू किया जाता है, जिससे भारत की जनता उन्हें योजनाओं का लाभ उठा सकें आइए जानते हैं कौन कौन सी मुख्य योजनाएं हैं ,जो भारत सरकार द्वारा संचालित की जा रही हैं और हम लोग उनका कैसे लाभ उठा सकते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 26 मार्च 2020 को लॉकडाउन के दौरान की थी इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री द्वारा देश की गरीब जनता को ध्यान में रखकर की गई थी। इस योजना के माध्यम से गरीबों को प्रति व्यक्ति के हिसाब से 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल प्रदान किए जा रहे हैं इस योजना को संचालित करने के लिए केंद्र सरकार ने 1.70 करोड़ का बजट रखा है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार इस योजना के द्वारा अब तक लगभग 80 करोड लोगों को लाभ पहुंचाया जा चुका है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

13 जनवरी 2016 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा फसल बीमा योजना की शुरुआत की गई थी इस योजना के माध्यम से सरकार का उद्देश्य भारत के किसानों को लाभ पहुंचाने का है यह फसल बीमा योजना भारतीय किसानों की खराब मौसम से होने वाली फसलों की हानि से उनकी रक्षा करेगी।भारतीय किसानों द्वारा लिए गए ऋण पर प्रियम की राशि में कमी आएगी और उनकी सहायता की जाएगी यह योजना केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्य सरकारों के साथ मिलकर लागू की जाएगी इस योजना के माध्यम से बीमा  दावों के निपटारे में तेजी आएगी व इस प्रणाली को आसान बनाया जाएगा।

स्वामित्व योजना

स्वामित्व योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को की गई थी। हमारे देश में अनेक राज्यों में ऐसे ग्रामीण लोग रह रहे हैं जिनके पास उनकी संपत्ति जमीनी संपत्ति के मालिकाना हक के कागजात या दस्तावेज नहीं है स्वामित्व योजना के माध्यम से ऐसे ग्रामीण लोगों की संपत्ति का रिकॉर्ड तैयार किया जा रहा है। इस योजना के माध्यम से केंद्र सरकार ऐसे लोगों की संपत्ति का मालिकाना हक उन लोगों को दिला रही है जिन लोगों के पास उनकी जमीनी संपत्ति के कोई कागजात नहीं है । हमारे देश में ऐसे करोड़ों ग्रामीण जन है जिनके पास अपनी जमीनी संपत्ति का कोई रिकॉर्ड नहीं है अतः सरकार की इस योजना से उन लोगों को बहुत फायदा हो रहा है।

आयुष्मान सहकार योजना

आयुष्मान सहकार योजना भारत सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए आरंभ की गई है। इस योजना के तहत राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है कि  गैर सरकारी व सरकारी अस्पताल व मेडिकल कॉलेज ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में स्थापित किए जाएं।इस योजना को लागू करवाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 10 हजार करोड़ रुपए का फंड भी निर्धारित किया गया है।केंद्र सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य के क्षेत्र में बुनियादी ढांचे में कार्य करने के लिए इसी फंड के माध्यम से लोन प्रदान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री कुसुम योजना प्रारंभ की। इस योजना के माध्यम से किसानों को सौरपंप लगाने पर छूट मिलेगी। इस योजना का उद्देश्य किसानों को अपने खेतों के लिए सौर पंप चलाने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया जाएगा जिससे किसानों को मुफ्त बिजली मिल सके। यदि किसान आवश्यकता से अधिक बिजली का उत्पादन कर कर ग्रिड को भेजते हैं तो उसका लाभ भी उन किसानों को दिया जाएगा। 

स्वनिधि योजना

प्रधानमंत्री द्वारा यह योजना 1 जून 2020 को प्रारंभ की गई थी।इस योजना के तहत ₹10000 का लोन दिया जाता है। यह योजना उन ठेला पटरी रेडी बालों के लिए है जिनका कारोबार लॉकडाउन के दौरान बंद हो गया था यह वह लोग होते हैं जो रोज कमाने खाने वाले होते हैं अतः ऐसे लोगों की सहायता के लिए केंद्र सरकार द्वारा स्वामित्व योजना का आरंभ किया गया था । इस योजना के तहत ऐसे लोगों को जिनका काम धंधा करोना काल के दौरान बंद हो गया था जैसे स्ट्रीट वेंडर ठेला पटरी रेडी वाले उनको इस योजना के तहत ₹10000 का लोन आसानी से सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है। 

अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा दिसंबर 2000 में की गई थी इस योजना के तहत देश की गरीब जनता को सस्ती दर पर अनाज उपलब्ध करवाना था। इस योजना के तहत देश की गरीब जनता लगभग एक करोड़ गरीब परिवारों को ₹2 किलो गेहूं व ₹3 किलो चावल प्रदान करने की सुविधा दी गई है।

नेशनल एजुकेशन पालिसी योजना2021

नई शिक्षा नीति की शुरुआत डॉक्टर कस्तूरी रंजन की अध्यक्षता में की गई। इस पॉलिसी के तहत स्कूलों व कॉलेजों के लिए नई शिक्षा नीति तैयार की जा रही है। नई शिक्षा नीति के तहत मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय को शिक्षा मंत्रालय के रूप में परिवर्तित कर दिया गया है। पहले विद्यालयों का पैटर्न 10 प्लस टू के रूप में जाना जाता था अब उसको परिवर्तित करके 5 +3 + 3 + 4 के रूप में कर दिया जाएगा

प्रधानमंत्री रोजगार योजना

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 2019 में  की गई थी इस योजना के द्वारा केंद्र सरकार यह चाहती है कि देश की बेरोजगारी को कम किया जाए इसके अंतर्गत देश के युवाओं को ऋण दिया जाएगा जिससे वह अपने स्वयं का रोजगार कर सकें इस ऋण को प्राप्त करने के लिए बेरोजगार युवा कम से कम 18 साल से 35 साल की उम्र के बीच का होना चाहिए । इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर्ता को ₹2 लाख तक का ऋण दिया जाएगा. यह ऋण केवल स्वयं के रोजगार करने के लिए ही दिया जाएगा तथा केंद्र सरकार द्वारा उस कार्य करने का प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। 

रोजगार प्रोत्साहन योजना

यह योजना 1 अप्रैल 2018 को प्रारंभ की गई थी इस योजना का उद्देश्य नए रोजगार सर्जन को प्रोत्साहित करना है। इस योजना का लाभ केवल नए रोजगार के लिए ही दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से देश के युवाओं युवाओं को प्रोत्साहन दिया जाएगा जो स्वयं का कारोबार करना चाहते हैं उस कारोबार के माध्यम से अन्य लोगों को रोजगार प्रदान करना चाहते हैं इस योजना से सरकार को दोहरा फायदा होगा एक तो देश में स्वयं का कारोबार करने वाले युवा बढ़ेंगे बाबे अपने कारोबार के माध्यम से बेरोजगारों को रोजगार देंगे जिससे देश में बेरोजगारी की समस्या कम होगी। प्रधान मंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना के तहत 8.33 परसेंट ईपीएस का योगदान दिया जाएगा वहीं 3. 67% ईपीएफ का योगदान सरकार द्वारा दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का आरंभ सन 2015 में किया गया था इस योजना के माध्यम से उन लोगों को प्रशिक्षण देना था जो कम शिक्षित थे या स्कूल छोड़कर घर बैठ गए हैं। इस योजना के माध्यम से ऐसे लोगों में स्किल डेवलपमेंट करके उनकी योग्यता को बढ़ाकर उनके मुताबिक उनको काम दिलाना था इस योजना के तहत देश के युवाओं को लोन की सुविधा भी दी जाती है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ उठा सकें  इस योजना के अंतर्गत व्यवसाय का 6 माह से लेकर 1 साल के लिए रजिस्ट्रेशन किया जाता है और कोर्स समाप्त हो जाने पर सर्टिफिकेट दिया जाता है यह सर्टिफिकेट देशभर में  मान्य होता है। 

अटल पेंशन योजना

इस योजना की शुरुआत भारत के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को पेंशन प्रदान करने के लिए की गई इस योजना के तहत 60 साल की उम्र में प्रतिमाह न्यूनतम पेंशन की गारंटी दी गई।  इस योजना के तहत प्रति माह पेंशन के रूप में 1000 2000 3000 4000 या ₹5000 प्रति महीना प्रदान किए जाने का आधार रखा गया  इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक की उम्र 18 से 40 साल के बीच की होनी चाहिए और उसका एक बचत खाता डाकघर में या किसी बैंक में होना चाहिए इस योजना का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड का नामांकन होना अनिवार्य नहीं है।।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

प्रधानमंत्री वय वंदन योजना देश के सीनियर सिटीजन के लिए एक पेंशन स्कीम है।  इस योजना के अंतर्गत एक निश्चित दर से सीनियर सिटीजन  को 10 साल तक पेंशन मिलती है। इस योजना के तहत आवेदक अधिकतम 15 लाख रुपए तक निवेश कर सकता है यह एक सोशल सिक्योरिटी स्कीम प्लान है भारत सरकार की यह योजना लाइफ इंश्योरेंस कारपोरेशन एलआईसी द्वारा संचालित की जा रही है इस योजना की शुरुआत 4 मई 2017 को हुई थी। इस पेंशन के तहत आवेदक को 10 वर्षों तक 7.4% की दर से ब्याज मिलेगा और यदि वह वार्षिक पेंशन का विकल्प चुनते हैं तो 10 वर्षों के लिए 7.66% की दर से ब्याज मिलेगा हालांकि कोरोना की वजह से इस स्कीम की ब्याज दरों में कटौती की गई है लेकिन फिर भी यह स्कीम फिक्स डिपाजिट के मुकाबले बेहतर विकल्प है।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना

इस योजना का प्रारंभ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व विभिन्न राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ 10 अक्टूबर 2019 को किया था। इस योजना के अंतर्गत नवजात  शिशुओं बा गर्भवती महिलाओं को उनकी स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं को निशुल्क प्रदान किया जाएगा।  इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार यह प्रयासरत है कि नवजात शिशुओं की मृत्यु में कमी आए जिससे देश की शिशु मृत्यु दर को कम किया जा सके। इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को प्रसव के 6 माह बाद तक बीमार नवजात शिशुओं को free सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना

इस योजना की  केंद्र सरकार द्वारा 2019 में की गई थी श्रम योगी मान धन योजना का उद्देश्य श्रमिकों को बुढ़ापे में आर्थिक मदद प्रदान करना है। हमारे देश के श्रमिकों की हालत आर्थिक रूप से बहुत खराब रहती है जिस कारण वृद्धावस्था में उन्हें आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना ऐसे कामगार श्रमिकों के लिए वरदान साबित हो सकती है। श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत 60 वर्ष से अधिक की आयु हो जाने पर ₹3000 प्रति माह की मानसिक पेंशन दी जाती है। इस योजना के अंतर्गत कामगार लोग जैसे मोची घरों में काम करने वाले मजदूर ईद मिट्ठू आदि पर काम करने वाले मजदूर मोची दर्जी रिक्शा चालक आदि इसी प्रकार के कामगार मजदूरों को इसी श्रेणी के अंतर्गत रखा गया है।

जीवन ज्योति बीमा योजना

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की शुरुआत केंद्र की मोदी सरकार ने 9 फरवरी 2015 को की थी.इस योजना के अंतर्गत सिर्फ ₹303 के प्रीमियम पर ₹2 लाख तक का बीमा प्रदान किया जाता है। वहीं अगर पॉलिसी धारक किसी दुर्घटना के द्वारा विकलांग हो जाता है तो उसे ₹1लाख तक की बीमित बीमा राशि प्रदान की जाएगी ,और यदि पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो साल दर साल पॉलिसी का नवीनीकरण पॉलिसी धारक के परिवार जन के द्वारा भी किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की शुरुआत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वर्ष 2015 में की गई थी। इस योजना के अंतर्गत देश के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले गरीब व निम्न आय वर्ग के परिवारों को स्वयं का अपना पक्का मकान बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक मदद प्रदान की जाती है साथ ही पुराने घरों की मरम्मत व कच्चे पुराने घरों को पक्का करवाने के लिए भी आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा मैदानी क्षेत्रों में मकान के निर्माण करने के लिए ₹120000,  तथा पहाड़ी क्षेत्रों के मकानों के निर्माण के लिए व मरम्मत करने के लिए ₹130000 की आर्थिक सहायता गरीब निर्धन परिवारों को इस योजना के तहत प्रदान की जाती है।

जन आरोग्य योजनायोजना

इस योजना की शुरुआत 23 सितंबर 2018 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा झारखंड के राजधानी रांची में की थी। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत के तहत ही आयुष्मान भारत का दूसरा घटक है जिसे पीएमजे के नाम से भी जाना जाता है यह दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है इस योजना के तहत भारत के प्रत्येक परिवार को ₹500000 तक का मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की गई है। इस योजना का लाभ भारत के लगभग 50 करोड़ जनता को होगा जो भारत की आबादी का लगभग 40 परसेंट है।

गर्भावस्था सहायता योजना

शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदीजी द्वारा 1 जनवरी 2017 को की गई थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य कामकाजी महिलाओं को उनकी मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए तथा उनको उचित आराम तथा उचित पोषण प्रदान करने के लिए किया गया था इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाएं जो स्तनपान कराने वाली मां उनके स्वास्थ्य में सुधार तथा उनके पोषण करना है इस योजना की राशि सीधे इन माताओं के डीवीडी खाते में भेज दी जाएगी जो तीन किस्तों में होगी पहली   किस्त ₹1000 की होगी जो गर्भावस्था का पंजीकरण करने के समय दी जाएगी दूसरी किस्त ₹2000 की होगी जो गर्भावस्था के 6 माह पूर्ण होने पर दी जाएगी और तीसरी किस्त ₹2000 की होगी जब बच्चे का पंजीकृत को जाता है और बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले चक्र का टीकाकरण शुरू हो जाता है।

पीएम कृषि सिंचाई योजना

हर खेत को पानी इस नारे के साथ केंद्र सरकार ने 1 जुलाई 2015 को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना पीएमकेएसवाई की शुरुआत की।  जिससे सिंचाई के कार्य में पानी की  बर्बादी कम से कम हो। इस योजना को संचालित करने के लिए केंद्र सरकार में 4000 करोड़ का फंड बनाया  है।इस योजना के द्वारा किसानों के कृषि  उपकरणों की खरीदारी पर किसानों को छूट दी जाएगी।

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना

5 जुलाई 2019 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा केंद्रीय बजट पेश करते हुए कर्म योगी  मानधन योजना की घोषणा की थी। इस योजना के अंतर्गत व्यापारी  जिनका एनुअल टर्नओवर 1.5 करोड़ रुपए हैं और जो जीएसटी के अंतर्गत पंजीकृत से व्यापारी छोटे दुकानदार कारोबारी  इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत रोज ₹2 से भी कम के प्रीमियम चुकाने के बाद भी मेच्योरिटी पर आपको हर महीने ₹3000 की पेंशन मिलेगी।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

लघु उद्योगों को ऋण देने व उनकी सहायता करने व उनको बहुत ही कम ब्याज दर पर ऋण की व्यवस्था कराने के लिए 8 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना पीएम एमवाई की शुरुआत की गई इस योजना के अंतर्गत लघु उद्योगों को ₹50 हजार से लेकर ₹10  लाख तक का लोन बहुत ही आसानी से वह बहुत ही कम ब्याज दर पर उपलब्ध कराया जाता है।

प्रधानमंत्री प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना

प्रधानमंत्री प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 22 जनवरी 2019 को की गई थी इस योजना के द्वारा भारत छोड़कर विदेशों में जा बसने वाले भारतीय प्रवासी जो भारतीय मूल के होंगे वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं इस योजना का उद्देश्य भारतीय संस्कृति का विदेशों में प्रचार प्रसार करना है  तथा भारतीय मूल के नागरिकों को भारत से जोड़ना है और भारत की आध्यात्मिकता और धार्मिकता का ज्ञान भी विदेशों के प्रवासी भारतीय लोगों के साथ-साथ विदेशी नागरिकों को भी कराना है जिससे भारतीय संस्कृति को बढ़ावा मिले इस योजना के द्वारा प्रवासी भारतीयों को जो मूल रूप से भारतीय नागरिक होंगे साल में दो बार आध्यात्मिक यात्रा करने का अवसर प्रदान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 2016 में की गई थी इस योजना के अंतर्गत उन बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है जिनके पिता या माता किसी नक्सली हमले में शहीद हो जाते हैं या किसी आतंकी हमले में शहीद हो जाते हैं तो उनकी पत्नी उनके बच्चों को तकनीकी शिक्षा देने के लिए पीएम छात्रवृत्ति योजना की शुरुआत की गई थी इस योजना के अंतर्गत केवल वही  छात्र आवेदन कर सकते हैं  जिनके अभिभावक सैनिक चाहे वह जल सेना में  हो थल सेना में  हो या वायु सेना में  हो या कोई पुलिसकर्मी हो  और जो शहीद हो गए हो उन सभी के बच्चे इस छात्रवृत्ति का लाभ उठा सकते हैं।

ऑपरेशन ग्रीन योजना

अब तक इस योजना में केवल टमाटर प्याज और आलू ही शामिल किए गए थे।

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश से एक जुलाई 2001 से की जा चुकी है इस योजना के अंतर्गत कृषि फसलों को बढ़ावा देने का कार्य किया जा रहा है इस योजना का लाभ बड़े पैमाने पर कृषकों को दिया जाएगा और इस योजना के अंतर्गत 22 नए कृषि उत्पादकों को शामिल करने की भी योजना बनाई जा रही है लेकिन वर्तमान में केवल लाल टमाटर और आलू और प्याज भी इसमें शामिल किए गए हैं।

मत्स्य सम्पदा योजना

इस योजना का उद्देश्य मछली पालन व्यवसाय से जुड़े हुए लोगों की आय में वृद्धि करना है व उनके जीवन स्तर को सुधारना है। इस योजना के माध्यम से सरकार जलीय कृषि को बढ़ावा देना चाहती है जिससे कि जलीय कृषि को बड़े पैमाने पर बढ़ाया जा सके। इस योजना के अंतर्गत मछली पालन करने वाले क्षेत्रों में मछली पालकों व व्यवसाय से जुड़े लोगों को ₹3  लाख तक का ऋण प्रदान किया जाएगा सरकार द्वारा इसके लिए 2050 करोड रुपए का फंड भी बनाया गया है जिससे इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर में वृद्धि हो सके।

किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत भारत सरकार देश के सभी किसानों को ₹6000 की राशि प्रदान करती है यह राशि उन्हें तीन अलग-अलग किस्तों में दी जाती है उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने व उनके कृषि कार्यों के लिए मदद करने तथा उनको आर्थिक सहायता पहुंचाने के लिए इस योजना की शुरुआत हुई इस योजना के लिए देश का कोई भी किसान आवेदन कर सकता है । और इस योजना के किस्से देश के किसानों के खातों में सीधे पहुंचाई भी जा चुकी हैं।

उज्ज्वला योजना

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 1 मई 2016 को की गई थी। इस योजना के माध्यम से देश की गरीब महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन वितरित किए जाएंगे। इस योजना को संचालित करने के लिए भारत सरकार द्वारा ₹8000 करोड़ की राशि का प्रबंध किया गया है ।आवेदन करने वाली महिला आवेदक की उम्र 18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए और उसके घर में किसी अन्य के पास इस योजना का लाभ नहीं होना चाहिए।

sukanya yojana की शुरुआत कब कहाँ और कैसे हुई?

सुकन्‍या समृद्धि योजना की शुरुआत बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत 4 दिसम्बर 2014 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गई थी। सरकार ने बालिकाओ के लिए बचत को प्रोत्साहन देने के लिए ‘सुकन्या समृद्धि खाता’ (Sukanya Samridhi Account) की शुरुआत की।

सुकन्या समृध्दि योजना की पात्रता/ योग्यता / नियम / term and condition

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत एक ही माता-पिता की संतानों  में केवल 2 ही बालिकाओं का खाता खोला जा सकता है यदि 2 बालिकाएं जुड़वा है तो तीन  बालिकाओं खाते खोले जा सकते हैं।इस योजना में खाता खोलने के लिए बालिका का आयु प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।  इस योजना में खाते को खोलने के लिए बालिका की उम्र 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।  इस योजना में खाता केवल  बालिकाओंका ही कोई सकता है।अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे.

आयुष्मान भारत योजना

आयुष्मान भारत योजना: 5 लाख रुपये का मुफ्त हेल्थ कवर, जानें कौन उठा सकता है फायदा click here

नोट- इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार central govnment Yojana 2021lकी अनेक योजनायें  संचालित है आगे आने वाले  समय मे अपडेट कर दिया जायेगा. इन योजनाओ का विस्तार से अपडेट भी इस साईट पर कर  दिया जायेगा।
thanks you!

gov website- https://xn--i1bj3fqcyde.xn--11b7cb3a6a.xn--h2brj9c/my-government/schemes